pradhan mantri awas yojana | प्रधानमंत्री आवास योजना

pradhan mantri awas yojana

पीएमएवाई क्या है?

भारत में  pradhan mantri awas yojana पहली बार 1 जून 2015 को शुरू की गई थी यह भारत सरकार की एक पहल है जिसका उद्देश्य वर्ष 2022 तक शहरी गरीबों को मकान देने का है योजना योजना के लिए ब्याज दरों की कीमत 6.50% प्रति वर्ष और 20 साल तक के कार्यकाल के लिए इसका लाभ उठाया जा सकता है

pradhan mantri awas yojana
pradhan mantri awas yojana

एलआईसी और ईडब्ल्यूएस श्रेणियों के लिए पीएम आवास योजना सीएलएसएस योजना का लाभार्थी लाभ ले सके इस लिए इस योजना की अंतिम तारीख 31 मार्च 2022 तक बढ़ा दी है,

PMAY योजना की विशेषताएं और लाभ क्या है

  • PMAY योजना के अंतर्गत , सभी योजना लेने वालो को 20 साल की अवधि के लिए आवास लोन 6.50% प्रति वर्ष की दर से सब्सिडी ब्याज दर प्रदान होती है
  • इसमें निचली मंजिल में अपाहिज एवं वरिष्ठ नागरिकों को वरीयता दी जायेगी।
  • पीएम आवास योजना का क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी का पहल भारत में सभी वैधानिक शहरों में प्रारंभिक चरण से ही लागू होता है।
  • इस निर्माण के लिए सतत और पर्यावरण के अनुकूल तकनीक का उपयोग किया जाएगा।
  • यह योजना में भारत देश के संपूर्ण शहरी क्षेत्रों को शामिल किया गया है जिसमें 4041 सांविधिक कस्बों को शामिल किया गया है, जिसमें प्रथम श्रेणी के 500 शहरों को प्राथमिकता दी जाती है । यह निर्माण 3 चरणों में पूरा किया जाता है।

प्रधान मंत्री आवास योजना कितनी राशी मिलती है 

1 लाख 20 हज़ार मैदानी इलाको के लिए 

1 लाख 30 हज़ार पहाड़ी इलाको के लिए 

12 हज़ार स्वच्छ भारत मिशन के तहत टॉयलेट के निर्माण के लिए

18 हज़ार मनरेगा सकीम के तहत 

70 हज़ार बैंक से लोन ले सकते है 

टोटल मिलने वाली राशी 2 लाख 20 हज़ार रुपए

PMAY योजना का प्रकार

PMAY योजना के दो उप-खंड के रूप में हैं जो उस क्षेत्र के आधार पर विभाजित होते हैं जिस पर वे ध्यान केंद्रित करते हैं:

1. प्रधान मंत्री आवास योजना – ग्रामीण

प्रधान मंत्री आवास योजना – ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) को पहले इंदिरा आवास योजना के नाम से जाना जाता था, और 2016 में इसे पीएमएवाई का नाम दिया गया था। इस योजना का उद्देश्य किफायती और सुलभ आवास इकाइयों के प्रावधान के लिए है। भारत के ग्रामीण क्षेत्रों (चंडीगढ़ और दिल्ली को छोड़कर) में पात्र लाभार्थी इस योजना का लाभ ले सकते है । इस योजना के तहत, भारत सरकार और संबंधित राज्य सरकारें मैदानी क्षेत्रों के लिए 60:40 और उत्तर-पूर्वी और पहाड़ी क्षेत्रों के लिए 90:10 के अनुपात में आवास इकाइयों के विकास की लागत खर्च की जाती है।

2. प्रधान मंत्री आवास योजना शहरी

प्रधान मंत्री आवास योजना – शहरी (पीएमएयूयू), जैसा कि नाम से पता चल जाता है, के भारत में शहरी क्षेत्रों के बारे में ये योजना केंद्रित करती है। वर्तमान में इस योजना के अंतर्गत 4,331 कस्बों और शहरों को इस योजना के तहत सूचीबद्ध किया गया है। शहरी आवास योजना तीन अलग-अलग चरणों के तहत कार्य को पूरा करती है
चरण 1:- इस के तहत, भारत सरकार ने अप्रैल 2015 से मार्च 2017 तक देश भर के विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 100 शहरों को इस योजना के तहत कवर करने का लक्ष्य रखा है।
चरण 2:– इस के तहत, सरकार ने अप्रैल 2017 से मार्च 2019 तक देश भर के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 200 और शहरों को इस योजना में कवर करने का लक्ष्य रखा है।
चरण 3:– इस योजना के तहत, सरकार ने चरण 1 और चरण 2 में बचे हुवे शहरों को इस योजना में कवर करने और मार्च 2022 के अंत तक कवर करने का लक्ष्य रखा गया है।

शुरु करने की तारीख25 जून 2015
आधिकारिक वेबसाइटhttps://pmaymis.gov.in/
पूरा होने की उम्मीद की तारीख2022 तक
टोल फ्री नंबर1800-11-6163
1800 11 3377, 1800 11 3388
शिकायतें या सुझाव शिकायत[email protected]
कार्यालय का पताPradhan Mantri Awas Yojana Ministry of Housing and Urban Affairs Nirman Bhawan,New Delhi- 110 011
संपर्क011 2306 3285, 011 2306 0484
ईमेल[email protected]

pradhan mantri awas yojana list 2020

केवल आधार कार्ड से ही की कोई भी लाभार्थी प्रधानमंत्री आवास योजना -शहरी के अंतर्गत अपना नाम PMAY की लिस्ट में खोज सकता है इसके लिए सबसे पहले आपको पीएमएवाई की officel वेबसाइट@pmaymis.gov.in पर जाना होगा, जब वेबसाइट ओपन हो जाएगी आपके सहमने “Search Beneficiary लिखा आयगा आपने उस पर क्लिक कारना है वहां आपको एक option मिलेगा search by name पर क्लिक करे आपना आधार नंबर इन्टर करना है,आपका नाम लिस्ट में शो हो जायेगा | PMAY List 2021 के अंतर्गत केवल उन्हीं परिवारों को इस लिस्ट में जोड़ा गया है जो प्रधानमंत्री आवास योजना की पात्रता को पाने के योग होते हैं|

ऐसे सभी परिवारों के कागजात पूरा होने के बाद केंद्र सरकार द्वारा उनकी सूची बनाकर भारत की सरकारी वेबसाइट पर समय समय पर उपलब्ध कराती है ताकि लाभार्थियों को जल्द से जल्द उसका अपना मकान उपलब्ध कराया जा सके| प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट को ऑनलाइन उपलब्ध कराने का उद्देश्य सरकार तथा लोगों के बीच पारदर्शिता को बढ़ाना है एवं योजना के कार्यान्वयन में गति प्रदान करना है

Scheme namePM Awas Yojana 2021
Launched DateYear 2015
Launched ByMr. Narendra Modi
Objective To ProvidePakka House to Each beneficiary
BeneficiaryEvery Citizen of India
PMAY SchemeNew List Available Now
BenefitsHouse For all
Mode of Downloading ListOnline
Official Websitehttps://pmaymis.gov.in/

प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभ

प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभ
PMAY में आने वाले राज्य और शहर के नाम

निचे दिए गए राज्य हैं जिनमें सरकार शामिल और उन शहरों की पहचान की गयी है और योजना के तहत रखे जाने का निर्माण शुरू किया गया है-

  • केरल, 52 शहरों में 9,461 घर बनाना
  • कर्नाटक, 95 शहरों में 32,656 घर बनाना
  • छत्तीसगढ़ – 1000 शहर यां कस्बे बनाना
  • तमिलनाडु, 65 शहरों और कस्बों में 40,623 घर बनाना
  • हरियाणा, 38 शहरों और कस्बों में 53,290 घर बनाना
  • गुजरात, 45 शहरों और कस्बों में 15,584 घर बनाना
  • मध्य प्रदेश – 74 शहर यां कस्बे बनाना
  • उत्तराखंड, 57 शहरों और कस्बों में 6,226 घर बनाना
  • उड़ीसा, 26 शहरों और कस्बों में 5,133 घर बनाना
  • महाराष्ट्र, 13 शहरों और कस्बों में 12,123 घर बनाना
  • जम्मू और कश्मीर – 19 शहर यां कस्बे बनाना
  • झारखंड – 15 शहर यां कस्बे बनाना

इसे भी पड़े :-

sbi होम लोन की जानकारी

Education loan process in hindi

भारतीय स्टेट बैंक पर्सनल लोन

PMAY के लिए दस्तावेज कोन से है

प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ लेने के लिए निचे दिए गए दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ती है जेसे के –

  • आयु प्रमाण दस्तावेज – आपका ड्राइविंग लाइसेंस/ पासपोर्ट / जीवन बीमा पॉलिसी / पैन कार्ड / जन्म प्रमाण पत्र /स्कूल छोड़ने के प्रमाण पत्र
  •  हलफनामा यां घोषणा पत्र जो यह साबित करता है कि लाभार्थी परिवार के पास अपना कोई पक्का घर नहीं है|
  • पहचान प्रमाण दस्तावेज – आधार कार्ड/पैन कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस/मतदाता पहचान पत्र |
  • निर्माणाधीन संपत्ति के लिए घोषणा पत्र , यदि लागू हो – घर बनाने वाले बिल्डर के साथ निर्माण समझौता, जिस घर/ संपत्ति को आप खरीदना चाहते हो उसके लिए उस सम्पति का मूल्यांकन प्रमाण पत्र, जिस संपत्ति को आप खरीदना चाहते हैं उसके लिए अग्रिम भुगतान की रसीद होना जरुरी है |
  • पते प्रमाण पत्र – बैंक विवरण/संपत्ति पंजीकरण दस्तावेज/संपत्ति कर रसीद/मतदाता पहचान पत्र
  • वेतन प्रमाण दस्तावेज (घर के सारे कमाने वाले सदस्य के लिए) – पिछले तीन महीनों के वेतन पर्ची / नियुक्ति पत्र / वार्षिक वेतन वृद्धि पत्र / फॉर्म no. 16
  • आय प्रमाण दस्तावेज – पिछले छह महीनों की वेतन पर्ची और आपके वेतन खाते के बैंक स्टेटमेंट की कॉपी
  • मौजूदा लोन विवरण – अगर आपके पास पहले से कोई लोन चल रहा है तो उस बैंक के माध्यम से विवरण प्रदान किया जाना
  • प्रोसेसिंग शुल्क चेक – वेतनभोगी ग्राहकों के वेतन खाते या स्व-नियोजित ग्राहकों के लिए व्यवसाय खाते से जारी किया जाना है
  • सक्षम प्राधिकारी या किसी हाउसिंग सोसाइटी से एनओसी

FAQ

Q 1. प्रधानमंत्री आवास योजना में कितनी राशि मिलती है?

Ans. 1 लाख 20 हज़ार मैदानी इलाको के लिए 

1 लाख 30 हज़ार पहाड़ी इलाको के लिए 

12 हज़ार स्वच्छ भारत मिशन के तहत टॉयलेट के निर्माण के लिए

18 हज़ार मनरेगा सकीम के तहत 

70 हज़ार बैंक से लोन ले सकते है 

टोटल मिलने वाली राशी 2 लाख 20 हज़ार रुपए

Q 2. प्रधानमंत्री आवास योजना में नाम कैसे चेक करें?

Ans. केवल आधार कार्ड से ही की कोई भी लाभार्थी प्रधानमंत्री आवास योजना -शहरी के अंतर्गत अपना नाम PMAY की लिस्ट में खोज सकता है इसके लिए सबसे पहले आपको पीएमएवाई की officel वेबसाइट@pmaymis.gov.in पर जाना होगा| PMAY List 2021 के अंतर्गत केवल उन्हीं परिवारों को इस लिस्ट में जोड़ा गया है, इस पोस्ट को पूरा पड़े तबी पता चलेगा …

Q 3. प्रधानमंत्री आवास योजना में क्या क्या कागज लगते हैं?

Ans.

  • आयु प्रमाण दस्तावेज – आपका ड्राइविंग लाइसेंस/ पासपोर्ट / जीवन बीमा पॉलिसी / पैन कार्ड / जन्म प्रमाण पत्र /स्कूल छोड़ने के प्रमाण पत्र
  •  हलफनामा यां घोषणा पत्र जो यह साबित करता है कि लाभार्थी परिवार के पास अपना कोई पक्का घर नहीं है|
  • पहचान प्रमाण दस्तावेज – आधार कार्ड/पैन कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस/मतदाता पहचान पत्र |
  • निर्माणाधीन संपत्ति के लिए घोषणा पत्र , यदि लागू हो – घर बनाने वाले बिल्डर के साथ निर्माण समझौता, जिस घर/ संपत्ति को आप खरीदना चाहते हो उसके लिए उस सम्पति का मूल्यांकन प्रमाण पत्र, जिस संपत्ति को आप खरीदना चाहते हैं उसके लिए अग्रिम भुगतान की रसीद होना जरुरी है |
  • पते प्रमाण पत्र – बैंक विवरण/संपत्ति पंजीकरण दस्तावेज/संपत्ति कर रसीद/मतदाता पहचान पत्र
  • वेतन प्रमाण दस्तावेज (घर के सारे कमाने वाले सदस्य के लिए) – पिछले तीन महीनों के वेतन पर्ची / नियुक्ति पत्र / वार्षिक वेतन वृद्धि पत्र / फॉर्म no. 16
  • आय प्रमाण दस्तावेज – पिछले छह महीनों की वेतन पर्ची और आपके वेतन खाते के बैंक स्टेटमेंट की कॉपी
  • मौजूदा लोन विवरण – अगर आपके पास पहले से कोई लोन चल रहा है तो उस बैंक के माध्यम से विवरण प्रदान किया जाना
  • प्रोसेसिंग शुल्क चेक – वेतनभोगी ग्राहकों के वेतन खाते या स्व-नियोजित ग्राहकों के लिए व्यवसाय खाते से जारी किया जाना है
  • सक्षम प्राधिकारी या किसी हाउसिंग सोसाइटी से एनओसी

Q 4. प्रधानमंत्री आवास योजना कैसे प्राप्त होती है?

Ans. आपनी बैंक साखा में जाकर आप वहां से अप्लाई कर सकते है

Q 5. प्रधानमंत्री आवास योजना 2020 21 की नई लिस्ट कैसे देखें?

Ans. पीएमएवाई की officel वेबसाइट@pmaymis.gov.in पर जाना होगा, जब वेबसाइट ओपन हो जाएगी आपके सहमने “Search Beneficiary लिखा आयगा आपने उस पर क्लिक कारन है वहां आपको एक option मिलेगा search by name पर क्लिक करे आपना आधार नंबर इन्टर करना है,आपका नाम लिस्ट में शो हो जायेगा |

निष्कर्स

दोस्तों आज आपने जाना है कि pradhan mantri awas yojana में हम कैसे अप्लाई कर सकते हैं और क्या-क्या उसमें कागजात की जरूरत पड़ती है तो मुझे आशा है कि आपको यह जानकारी समझ में आ गयी होगी कि प्रधानमंत्री अवकाश योजना में कौन-कौन आदमी उसमें अप्लाई कर सकता है और क्या-क्या उस के बेनिफिट है अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी है तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और कोई आपका सुझाव है यां आप का  कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट में जरूर लिखें मैं उसका उत्तर जोड़ दूंगा धन्यवाद

Rate this post

Leave a Comment