credit card क्या होता है | क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान 2022

credit card kya hota hai

दोस्तों आज हम क्रेडिट कार्ड के बारे में पूरी जानकारी देंगे credit card क्या होता है, क्रेडिट कार्ड एक तरह का उधार है जो बैंक आपको प्रोवाइड करता है बैंक आपको एटीएम की तरह एक कार्ड देता है जिसमें पैसों की लिमिट होती हैं जे लिमट 10000-20000 एक लाख या दो लाख तक भी हो सकती है इन पैसों का इस्तेमाल आप शॉपिंग में कर सकते हैं या आपने कोई बिल पे करना है इस कार्ड से बिल पे कर सकते हैं जे तो है कि क्रेडिट कार्ड क्या होता है आगे हम पूरे विस्तार से इसके बारे में जानकारी देंगे

क्रेडिट कार्ड क्या होता है

 डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड में अंतर

क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड दोनों अलग-अलग कार्ड है जो बैंक आपको प्रोवाइड करता है

#1.  debit card

डेबिट कार्ड यह है जब आप बैंक में अकाउंट खुलवा ते हैं बैंक आपको उसी खाते का एक कार्ड देता है जिसे आप एटीएम कार्ड कहते हो उसी को डेबिट कार्ड कहा जाता है, जितने भी आपके अकाउंट में पैसे हैं हम पैसों को आप इस डेबिट कार्ड के जरिए निकाल सकते हैं, क्लियर बात यह है कि आपके अकाउंट में जितने पैसे हैं आप इनका ही इस्तेमाल कर सकते हैं

#2. credit card

आपके बैंक खाते में पैसे हो यां न हो क्रेडिट कार्ड को इससे कोई मतलब नहीं रहता कियोकि जे एक बैंक की तरफ से आपने ग्राहकों को सुविदा दी है,जे कार्ड  बैंक उस टाइम इसको प्रोवाइड करता है जब आपका बैंक अकाउंट और एटीएम कार्ड चालू होता है, तब बैंक आपको अलग से एक कार्ड प्रोवाइड करता है जिसको credit card कहते हैं ,बैंक कुछ पैसों की लिमिट क्रेडिट कार्ड में देता है जिसका इस्तेमालआप शॉपिंग में कर सकते हैं या कोई बिल पे कर सकते हैं

क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान

क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान

#1. क्रेडिट कार्ड के फायदे

1. क्रेडिट कार्ड बैंक की तरफ से एक उधर की तरह दिया जाता है

2. इसमें किसी भी प्रकार का बैंक को ब्याज दर नहीं देना होता है

3. क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल शॉपिंग करने के लिए कर सकते हैं और किसी भी प्रकार का बिल पे करने के लिए इसको इस्तेमाल कर सकते हैं

4 . क्रेडिट कार्ड मैं 10,000 से लेकर 200000 तक लिमिट दी जाती है यह लिमिट डिपेंड करती है सिबिल स्कोर पर और आपके सैलरी पर

5 .बैंक क्रेडिट कार्ड देते समय की लिमिट बता देता है

6 . महीने का जितना भी बिल आता है उसी पैसे को बैंक को लौटाना है

7 . बिल की कोई भी एक तारीख सुनिश्चित होती है उस तारीख से लेकर 15 या 20 दिन का आपको बैंक समय देता है, हर एक बैंक का अलग-अलग टाइम       होता है

8 . बैंक अकाउंट में पैसे हो या ना हो credit card को इसका कोई मतलब नहीं

9 . जितना पैसा आप क्रेडिट कार्ड से खर्च करोगे चाहे आपने शॉपिंग किया है चाहे बिल पेमेंट किया है उतना ही पैसे बैंक को लौटने है

10 . एमरजैंसी में आपको पैसे की जरूरत पड़ गई तो तुरंत इसका इस्तेमाल कर सकते हैं

#2. क्रेडिट कार्ड के नुकसान

1 . क्रेडिट कार्ड होने से पैसा ज्यादा खर्च हो जाता है

2 . बैंक कभी भी बिल टाइम से भरने की सलाह नहीं देगा

3 . कितना समय आपको बिल भरने को दिया गया है अगर आप उस समय में बिल का पैसा नहीं बरतें तो बैंक के ब्याज दर के माया जाल में फंस जाते हैं जिसमें बैंक कई तरह की पेनाल्टी लगाकर ब्याज दर के साथ इस रकम को वसूला जाता है |

4 . अगर इसमें शॉपिंग की जाए या बिल पे किया जाए तो इसमें कोई भी ब्याज दर का चार्ज नहीं है

5 . इसमें से पैसे निकाल के इस्तेमाल किया जाए तू इसमें ब्याज दर काफी ज्यादा है

इसे भी पड़े :-

बैंक से लोन लेने के लिए क्या करना होगा

online loan kaise le 

भारतीय स्टेट बैंक पर्सनल लोन

क्रेडिट कार्ड को कौन अप्लाई कर सकता है

1 . इसके लिए बैंक में खाता होना जरूरी है जिस भी बैंक में आपका खाता है उस बैंक से ही क्रेडिट कार्ड ईसू किया जाता है

2 . बैंक ग्राहक को credit card देने से पहले उसका सिबिल स्कोर दिखा जाता है

3 . जो सैलरी लेते हैं उनको क्रेडिट कार्ड जल्दी से मिल जाता है चाहे वह सरकारी हो या प्राइवेट

4 . जो अपना निजी कोई कारोबार करता है उसकी हर महीने की इनकम देखी जाती है कि कि हर महीने उसके अकाउंट में कितना पैसा आ रहा है

सिबिल स्कोर क्या होता है

जब आप किसी भी कंपनी से या किसी बैंक से लोन लेना चाहते हैं तू सबसे पहले आपका सिबिल स्कोर चेक किया जाता है, लोन लेने के लिए सबसे जो खास पैरामीटर होता है वह सिबिल स्कोर ही होता है, किसी व्यक्ति को लोन मिलेगा या नहीं मिलेगा सिबिल स्कोर पर डिपेंड होता है कुछ फाइनेंस कंपनियां आपके खाते की पूरी लेनदेन की जानकारी अपने पास रखती हैं,

एक अच्छा लेनदेन एक अच्छे सिविल स्कोर को दर्शाता है सिबिल स्कोर 3 अंक का होता है जे 300 से 900 के बीच में रहता है 700 से 800 तक गुड माना जाता है और 800 से 900 एक्सीलेंट माना जाता है, गुड और एक्सीडेंट को लोन मैंने में कोई भी दिक्कत नहीं होती,

सिबिल स्कोर किस काम आता है

जब कोई व्यक्ति किसी बैंक यां कंपनी से लोन लेने जाता है या फिर अपने लिए कोई क्रेडिट कार्ड बनवाने जाता है तो सबसे पहले बैंक या कंपनी उस व्यक्ति का सिबिल स्कोर चेक करती है,उस व्यक्ति का सिबिल स्कोर को देखते ही बैंक अंदाजा लगा लेता है कि इस व्यक्ति को लोन देना है या नहीं देना इसलिए सिबिल स्कोर अच्छा होना बहुत ही जरूरी है, अगर 700 से 800 तक रहता है तो लोन लेना यां क्रेडिट कार्ड बनाना आसान हो  जाता है,

सिबिल स्कोर खराब कब माना जाता है

सिबिल स्कोर खराब होने का एक मेन कारण है के जब हम को लोन मिल जाता है तब हम जो लोन की ईएमआई है उसको टाइम से पे नहीं करते तब सिबिल स्कोर खराब होने लग जाता है, जब कोई व्यक्ति टाइम से ईएमआई भी करता रहता है तब यह कंपनियां सोचती है के अपने फाइनेंस के लिए काफी जिम्मेदार है क्योंकि इन कंपनियों के पास व्यक्ति का नाम, पता, उम्र ,आधार कार्ड, पैन कार्ड ,यहां तक के मोबाइल नंबर भी उनके पास दर्द रहता है

सिबिल स्कोर ऑनलाइन चेक कैसे करें

सिबिल स्कोर को चेक करने के लिए आपको फाइनेंस कंपनी की वेबसाइट में जाना उसके लिए आप गूगल में टाइप करें www.cibil.com जब उनकी वेबसाइट खुल जाएगी इसमें लिखा आएगा get your sibilscore इसमें क्लिक करने के बाद आपसे कुछ इंफॉर्मेशन पूछी जाएगी, उसके बाद यह आपका सिबिल स्कोर बता देगा

निष्कर्ष

दोस्तों आज आपने जाना है के credit card क्या होता है और इस इस के क्या-क्या फायदे हैं और क्या-क्या नुकसान है मुझे आशा है क्या आपको क्रेडिट कार्ड के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी अगर मेरी इस जानकारी मैं आपको कोई अच्छी जानकारी मिली है तो कृपया नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें हम आपके कॉमेंट का वेलकम करेंगे, जाते जाते नीचे स्टार रेटिंग देना ना भूलें पांच नंबर का स्टार दबाने से अच्छा रेटिंग माना जाता है

पोस्ट करने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद

 

4.3/5 - (3 votes)

3 thoughts on “credit card क्या होता है | क्रेडिट कार्ड के फायदे और नुकसान 2022”

Leave a Comment